Indira Rasoi Yojana Online Registration , Eligibility | Rajasthan इंदिरा रसोई योजना 2023

About Indira Rasoi Yojana 2023,

इंदिरा रसोई योजना की शुरुवात राजस्थान में हुई है और इसकी शुरवात Rajasthan के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के समर्थन द्वारा संभव हो पाया है। इसकी शुरुवात की तिथि 26 जून 2020 में की गयी थी। इस समय भारत में एक खतरनाक तरह का वायरस फ़ैल गया था और सम्पूर्ण भारत को भारतबंद का सामना करना पड़ रहा था और उस समय पर जो लोग रोजमर्रा के लिए कमाते है वो बिलकुल बेरोजगार हो चुके थे जिस वजह से उनको खाने के लिए भी भी पैसे नहीं होते थे।

जिस वजह से ही इस योजना की शुरवात की गयी ताकि किसी भी गरीब परिवार जिनके पास कोई बचत न हो तो ऐसा परिवार भर पेट खाना खाये और कोई भी गरीब भूखे पेट ना सोये। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा सभी गरीब और असहाय परिवारों को सिर्फ 8 से 10 रूपये में उनको भरपेट और पूरा पोषण से भरा हुआ खाना खिलाने का जिम्मा अपने सर लेते है। सरकार की इस योजना के द्वारा सभी गरीबो का पेट भर सके और कम रेट में खाना देती है. ये सभी Rajasthan के लोगो के लिए वैलिड है और वो इसका लाभ उठा सकती है इसी योजना को “Indira Rasoi Yojana” का नाम दिया गया।

Indira Rasoi Yojana Key Points

योजना का नाम
राजस्थान Indira Rasoi Yojana
योजना की शुरुवात किसने की
मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
उद्देश्य
शुद्ध एवं पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराना है
लाभ
गरीब नागरिकों को भूखा नहीं रहना पड़ेगा
लाभार्थी
राजस्थान के नागरिक
योजना कब से शुरू हुई है26 जून 2020
योजना का बजट
100 करोड रुपये प्रति वर्ष
आवेदन की प्रक्रिया
ऑनलाइन या ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटrajasthan.gov.in

 

इंदिरा रसोई योजना उद्देश्य

इस योजना के अंतर्गत हर साल 100 रुपये करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
इंदिरा रसोई योजना के तहत 213 नगरीय क्षेत्र में 358 रसोइयों के साथ शुरुआत की गयी थी पर अभी इंदिरा रसोई योजना 2023 के बजट घोषणा के अंदर अब 512 रसोइयों की बढ़ोतरी करके टोटल 1000 रसोइयों का निर्माण किया गया है।
Indira Rasoi Yojana के अंतर्गत अब कोई भी गरीब व्यक्ति भूखे पेट न सोये इस कारण से ही इसकी शुरवात की गयी है।
इस योजना के अंतर्गत अब हर गरीब व्यक्ति कम पैसों में अपना भोजन कर पाएगा क्योकि इसका मूल्य बहुत ही मामूली सा था इस वजह से हर व्यक्ति अब भरपेट खाना खा पाते है।
भोजन 8 और 12 रुपये प्रति प्लेट मुहैया कराते थे।
सुबह 8:30 बजे से लेकर 1:00 बजे तक और शाम में 5:00 से 8:00 बजे तक भोजन प्राप्त कराया जाएगा।

 

इंदिरा रसोई योजना के मुख्य उद्देश्य (Indira Rasoi Yojana Main Objective) ये है की कोई भी व्यक्ति जो अपने और अपने परिवार के लिए खाना मुहैया करवाने में सक्षम नहीं होते है तो उस परिवार को भर पेट खाना खिलाने में समर्थ हो पाए यही कारण है की इस योजना की शुरवात की गयी है| इसका मुख्य उदेश्य सभी को खाना प्रोवाइड करवाना होता है।

Indira Rasoi Yojana Benefits:

इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी  समर्थन के साथ संभव हो पाया है।
लाभार्थी को 8 रूपये से 12 रुपये तक सभी को शुद्ध ताजा एवं पोष्टिक भोजन प्राप्त हो जाता है।
इस योजना की एक और महत्वपूर्ण और मुख्य विशेषता ये है की यहाँ पर लोगो को सम्मान के साथ बिठा कर खाना खिलाने की बहुत अच्छे से व्यवस्था है।
इंदिरा रसोई योजना राजस्थान में राज्य सरकार द्वारा 12 रूपये प्रति थाली प्रदान की जाती है।
इंदिरा रसोई योजना हेतु प्रतिवर्ष 100 करोड रूपये का बजट तैयार किआ जाता है।
इस योजना में प्रतिदिन 1.34 लाख व्यक्ति एवं प्रतिवर्ष 4.87 करोड़ लोगो को लाभान्वित करने का लक्ष्य होता है| आवश्यकता के अनुरूप इसे और बढ़ाया जा सकता है और बढ़ाया भी जाता है।
स्थानीय संस्थाओं के समर्थन और निष्ठापर्ण एवं सहयोग से रसोईयों का संचालन किआ जाता है।
भोजन मेन्यू में मुख्य रूप से प्रति थाली 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम सब्जी, 250 ग्राम चपाती एवं आचार सम्मिलित है।
विकेंद्रीकृत तरीके से जिला स्तरीय समिति को आवश्यकता के अनुसार भोजन का स्थान, मेनू और समय चुनने की स्वतंत्रता है।
इस योजना में रियल-टाइम ऑनलाइन मोनेटरिंग एस.एम.एस गेटवे से लाभार्थी को सूचना एवं फिडबैक सुविधा।
प्रत्येक रसोई संचालन करने के लिए  5 लाख रुपये आधारभूत एवं 3 लाख रुपये प्रतिवर्ष का खर्चा आता है।
इस योजना में राज्य/जिला स्तरीय समिति द्वारा निरीक्षण व गुणवत्ता जाँच।
कोरोना महामारी के बचाव हेतु रसोईयों पर आवश्यक प्रावधान थे पर अब ये सभी के लिए नार्मल कर दिए गया है।
Rajasthan Indira Rasoi Yojana में सामान्यत दोपहर का भोजन प्रातः 8:30 बजे से मध्यान्ह 1:00 बजे तक एवं रात्रिकालीन भोजन सांयकाल 5:00 बजे से 8:00 बजे तक उपलब्ध कराया जायेगा।
इस योजना में आवश्यकतानुसार एक्शटेन्शन काउंटर द्वारा भोजन वितरण किया जाता है।
इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन करवा सकते हैं।

 

भोजन किस समय से किस समय तक वितरण होता है?

Rajasthan Indira Rasoi Yojana में सामान्यत दोपहर का भोजन प्रातः 8:30 बजे से मध्यान्ह 1:00 बजे तक एवं रात्रिकालीन भोजन सांयकाल 5:00 बजे से 8:00 बजे तक उपलब्ध कराया जायेगा।

पात्रता – Indira Rasoi Yojana Eligibility

जो भी व्यक्ति इंदिरा रसोई योजना के तहत पात्रता लेना चाहते है वो सबसे राजस्थान का ही मूल निवासी होना चाहिए क्युकी ये योजना राजस्थान के लोगो के लिए ही योजना की शुरवात की गयी है।
इस योजना का लाभ राजस्थान राज्य के कोई भी नागरिक ले सकते हैं।
कम दामों पर दो वक्त का खाना उपलब्ध करवाया जाता है कम से कम 8 रुपए से लेकर ज्यादा से ज्यादा 12 रुपए तक खाना मिल जाता है।
 लाभार्थी को शुद्ध तथा पौष्टिक अचार उपलब्ध करवाया जाता है जो एक व्यक्ति के लिए काफी हो जाता है।

 

आवश्यक दस्तावेज (Documents)

Indira Rasoi Yojana का लाभ लेने के लिए आपको महत्वपूर्ण दस्तावेज (Documents) की आवश्यकता होती है, यह Documents आपको इस योजना में पात्रता हेतु सरकारी प्रक्रियाओं को आसान बनाते हैं।

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पहचान पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का पता
  • आवेदक का मोबाइल नंबर

Indira Rasoi Yojana Online registration

Indira rasoi near me: राज्य के जितने भी लोग जो इस इंदिरा रसोई योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते है तो उन्हें अभी कुछ समय के लिए इंतज़ार करना होगा क्योंकि इस योजना की घोषणा अभी राजस्थान सरकार ने की है, अभी इसकी आवेदन प्रक्रिया जारी नहीं की गई है। जैसे ही इस योजना की आवेदन प्रक्रिया जारी होगी तब हम आपको Update जरूर करेंगे जिस के बाद आपको ये स्पष्ट हो जायेगा की Indira Rasoi Yojana 2023 के तहत आवेदन की प्रक्रिया किस तरह से होती है।

और पढ़े :- 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana, पीएम किसान योजना की 14वीं किस्त कब आएगी?

UP Rojgar Sangam रजिस्ट्रेशन से लेकर job apply कैसे करे?

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2023 List, Status — CM Kisan Kalyan Yojana beneficiary list

PM Awas Yojana 2023 (PMAY), प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता और आवेदन

Rail Kaushal Vikas Yojana 2023 | रेल कौशल विकास योजना 2023

Leave a Comment